कोटद्वार: गुलदार ने महिला को बनाया अपना निवाला

उत्तराखंड में जंगली जानवरों का आतंक लगातार बना हुआ है। ऐसे में गुलदार के हमले की एक और दर्दनाक खबर कोटद्वार के दुगड्डा से सामने आ रही है। जहां मंगलवार सुबह एक महिला अपने बच्चे को दुगड्डा स्थित स्कूल में छोड़ने के बाद घर लौट रही थी। इस बीच रास्ते में घात लगाए बैठे गुलदार ने महिला पर हमला कर दिया।

प्रखंड दुगड्डा के अंतर्गत ग्राम गोदी बड़ी निवासी रीना देवी (38) पत्नी मनोज चौधरी अपने बच्चे को मंगलवार सुबह गांव से अपने बच्चे को स्कूल छोड़ने दुगड्डा आई। जब वह वहाँ से वापिस घर जा रही थी तों गांव के समीप ही रीना देवी पर गुलदार ने हमला कर दिया। जिसके बाद गुलदार उसे घसीटते हुए झाड़ियों के भीतर ले गया। वहाँ से गुजर रहे कुछ बच्चों की नज़र जब रास्ते में पड़े खून पर पड़ी तो उन्होंने इसकी जानकारी गांव में दी। घटनास्थल पर पहुंचे ग्रामीणों ने कुछ दूर झाड़ियों में एक शव पड़ा हुआ देखा। जिसके समीप ही गुलदार भी बैठा हुआ था। यह सब देख ग्रामीणों के होश उड़ गए और तुरन्त उन्होंने इसकी सूचना वन विभाग को दी।

यह भी पढ़े- बष्टा ग्राम: नरभक्षी गुलदार को गोली मारने के आदेश जारी

सूचना मिलते ही मौके पर पहुँची वन विभाग की टीम द्वारा शव को झाड़ियों से बाहर निकालने का प्रयास किया जा रहा है। आपको बता दें की पिछले साल भी इस गांव में गुलदार ने एक मासूम को भी अपना निवाला बनाया था। इस घटना से ग्रामीणों में रोष है। वहीं ग्रामीणों द्वारा वन विभाग से गांव में पिंजरा लगाने की मांग की जा रही है।

रुद्रप्रयाग में भाई के साथ जलस्रोत में नहा रहे 8 वर्षीय बच्चे पर गुलदार ने किया था हमला

ऐसे ही एक ख़ौफ़नाक मामला रुद्रप्रयाग जनपद से भी सामने आया था। जहां बसुकेदार तहसील के बष्टा गांव में गुलदार ने आठ वर्षीय बच्चे को अपना निवाला बना लिया था। गांव के पास ही मौजूद प्राकृतिक जल स्रोत में छोटे भाई के साथ नहाने गए बच्चे पर गुलदार ने हमला कर दिया था। जिसके बाद से पूरे गाँव के खौफ छाया हुआ है।

Leave a comment